विदेशी मुद्रा व्यापार में अगर आप पर व्यापार करते हैं तो आप जोखिम प्रतिशत को नियंत्रण नहीं करते जिस से आप का नुकसान हो जाता है व्यापार करते हुए होवे जोखिम प्रतिशत को नियंत्रण करना बहुत जरूरी है अगर आप जोखिम प्रतिशत नियंत्रण करना सिख गे तो आप के लिए ट्रेडिंग करना बहुत आसान हो जाएगा लेकिन हम लॉग ओवर ट्रेडिंग करते हैं और लालच करते हैं जिस की वजह से हमारा नुकसान होता है फॉरेक्स में सफलता हासिल करने के लिए पैसा प्रबंधन को सीखना चाहिए मनी मैनेजमेंट से हमन ट्रेडिंग में जोखिम प्रतिशत को नियंत्रित करना आता है जब हम मनी मैनेजमेंट से ट्रेड करते हैं तो हम प्रॉपर स्टॉप लॉस या टेक प्रॉफिट का इस्तमाल करते हैं और जब हम होते हैं नुकसान अगर होता है तो हमारी ट्रेड स्मॉल लॉस में कट हो जाती है क्यूं के हम जोखिम प्रतिशत को देखते हैं कैसे ट्रेडिंग की होती है और स्टॉप लॉस हिट हो जाता है मैं अपनी ट्रेडिंग मैं सिर्फ 5% जोखिम लेटा हुन एस से ज़ियादा जोखिम नहीं लेटा क्यों के से ज़िदा जोखिम लेना ओवर ट्रेडिंग में आ जाता है और ओवर ट्रेडिंग से लो एसएस होता है